प्रमुख वैज्ञानिक यंत्रो के नाम और उनके उपयोग व कार्यो की सूची - Gyan Darpan : Learning Portal

Post Top Ad

Thursday, 14 February 2019

प्रमुख वैज्ञानिक यंत्रो के नाम और उनके उपयोग व कार्यो की सूची

List of major scientific instruments and their uses and tasks

वैज्ञानिक उपकरण उन युक्तियों को कहते हैं जो किसी विज्ञान के कार्य को करने में सुविधा या सरलता या आसानी प्रदान करते हैं। सभ्यता के विकास के साथ पूरे विश्व में वैज्ञानिक प्रगति हो रही है। कई विकसित देशों में तो वैज्ञानिक प्रगति और आविष्कारों को लेकर आपसी प्रतिस्पर्धा की स्थिति आ गई है।
विज्ञान के क्षेत्र में कई देशों के द्वारा गहन अनुसंधान और अन्वेषण के कार्यक्रम चलाए जा रहे हैं। अनुसंधान के मामले में केवल सोवियत संघ वाले एशियाई देश ही नहीं बल्कि अमेरिका और यूरोपीय देशों की भागीदारी भी रही है।आइये जाने प्रमुख वैज्ञानिक यंत्र और उनके कार्यो के बारे में:-
प्रमुख वैज्ञानिक यंत्रो के नाम और उनके उपयोग की सूची:
वैज्ञानिक यंत्रो के नामउपयोग
आल्टीमीटरयह ऊँचाई मापक यंत्र है। जिसका उपयोग विमानों में किया जाता है।
एनीमोमीटरइससे  वायु के बल तथा गति को मापा जाता है। यह वायु की दिशा भी बताता है।
ऑडियोमीटरऑडियोमीटर यह ध्वनि की तीव्रता को मापता है
एयरोमीटरयह वायु और गैसो के घनत्व को मापने वाला यंत्र है।
ऐक्टिनोमीटरविधुत चुंबकीय विकिकरण की तीव्रता मापने का यंत्र है।
ऐक्यूमुलेटरविधुत ऊर्जा उत्पन्न करने का द्वितीयक सेल /एक बैटरी
ऐंटि- एयरक्राफ्टगनगोला मारकर हवाई जहाज को गिराने वाली तोप।
ऑडियोफोनइसे लोग सुनने में सहायता लिए कान में लगाते  है। इसे सुनने का मशीन भी कहते है।
बैरोग्राफयह वायु मंडल के दाब में होने वाले परिवर्तन लगातार मापता रहता है और स्वतः इसका ग्राफ भी बना देता है।
बैरोमीटर यह उपकरण वायु दाब मापने के काम आता है।
बाइनोक्यूलर यह उपकरण दूर की वस्तुतएं देखने के काम आता है।
कैलीपर्सइसके द्वारा बेलनाकार वस्तुओ के अंदर तथा बाहर के व्यास मापे जाते है तथा इससे वस्तु की मोटाई भी मापी जाती है।
कैलोमीटरयह उपकरण तांबें का बना होता है। और ऊष्मा की मात्रा ज्ञात करने के काम में आता
कारबुरेटरइससे अन्तदर्हन पेट्रोल इंजनो में पेट्रोल तथा हवा का मिश्रण बनाया जाता है।
सिनेमैटोग्राफ छोटी-छोटी  फिल्मो को बड़ा करके पर्दे पर लगातार क्रम में प्रक्षेपण करने के लिए इस यंत्र का प्रयोग किया जाता है।
कम्प्यूटेटर इससे किसी परिपथ में विधुत धारा की दिशा बदली जाती है।
साइटोट्रॉनकृत्रिम मौसम उत्पन्न करने में काम आने वाला यंत्र।
डायनमोमीटरविधुत शक्ति को मापने का यंत्र।
डिक्टाफोनअपनी बात तथा आदेश दूसरे व्यक्ति को सुनाने के लिए इस यंत्र द्वारा रिकार्ड किया जाता है।
फ़ैदोमीटरयह यंत्र समुद्र की गहराई नापने के काम आता है।
गाइगर मूलर काउंटरइस उपकरण की सहायता से रेिडयो एक्टिव स्त्रोत के विकिरणकी गणना की जाती है।
ग्रैबीमीटरइस यंत्र के द्वारा पानी की सतह पर तेल की उपस्थिति ज्ञात की जाती है।
गाइरोस्कोपइस यंत्र से घूमती हुई वस्तुओ की गति ज्ञात करते है।
हाइड्रोमीटरइस उपकरण के द्वारा द्रवो का आपेक्षित घनत्व ज्ञात करते है।
हाइड्रोफोनयह पानी के अंदर ध्वनि-तरंगो की गणना करने में काम आने वाला यंत्र है।
हाइग्रोस्कोपयह वायुमंडलीय आद्रर्रता परिवर्तन दिखाने वाला यंत्र है।
कीमोग्राफयह यंत्र रक्त चाप, हृदय-स्पंदन, आदि शारीरिक गतियों या कारको  के परिवर्तन का ग्राफ बनाता है।
लैक्टोमीटरदूध की शुद्धता जाँच करने का यंत्र। यह यंत्र दूध का आपेक्षित घनत्व मापता है। जिससे उसमे पानी की मात्रा का पता चलता है।
दाबमापीइससे गैसो का दाब ज्ञात किया जाता है।
मैकमीटरयह यंत्र वायु की गति की ध्वनि को गति के पदो में मापता है।
चुम्बकत्वमापीयह विभिन्न चुंबकीय आघुर्णो तथा चुंबकीय क्षेत्रों की तुलना करने के लिए प्रयुक्त किया जाने वाला यंत्र है।
माइक्रोफोनयह यंत्र ध्वनि तरंगो का विधुत स्पन्दानो में परिवर्तनों करता है।
ओडोमीटरइससे मोटर गाड़ी की गति को ज्ञात किया जाता है। इसे  चक्करमपि भी कहते है।
परिस्कोपइसके द्वारा जब पनडुब्बी पानी के अंदर होती है,तो पानी की सतह का अवलोकन किया जा सकता है। और उसमें बैठे लोग बिना किसी बाधा के बाहरी हलचलों को देख सकते है। दिवार के दूसरी ओर
और उसमें बैठे लोग बिना किसी बाधा के बाहरी हलचलों को देख सकते है। दिवार के दूसरी ओर (अपने कमरे में ही बैठे हुए) देखने के लिए भी इसका प्रयोग किया जाता है।
पायरोमीटरयह उच्च तापो को मापने का यंत्र है, जैसे सूर्य का ताप।
पॉलीग्राफइस यंत्र को झूठ का पता लगाने के लिए लाई-डिटेक्टर के रूप में प्रयुक्त किया जाता है। यह यंत्र एक साथ ही कई शारीरिक क्रियाओ के परिवरतनों को रिकॉर्ड करता है
जैसे-हृदय-स्पन्दन,रक्त-चाप, श्वसन आदि।
 रडाररेडियो तरंगो द्वारा पास आते हुए वायुयान की दिशा और दुरी को ज्ञात करने के लिए इस यंत्र का प्रयोग किया जाता है  रडार वास्तव में संक्षिप्त रूप है Radio detection and Ranging का।
रेडिएटर यह करो तथा गाड़ियों के इंजनो को ठंडा करने वाला उपकरण है।
रेडियो मीटरइस यंत्र द्वारा विकिरण ऊर्जा की तीव्रता को नापा जाता है।
सिस्मोग्राफइस यंत्र से पृथ्वी की सतह पर आने वाले भूकम्प के झटको की तीव्रता का ग्राफ स्वतः ही चित्रित हो जाता है।
स्पेक्ट्रोमीटरइस यंत्र के माध्यम से विभिन्न प्रकार के स्पेक्ट्रोमो का अध्ध्यन किया है। तथा विभिन्न रंगो के तरंग-दैधर्य को मापा जाता है।
स्पीडोमीटरइससे मोटर गाड़ी की गति मापी जाती है।
स्फिग्मोमैनोमीटरइससे मानव की धमनियों में बहने वाले रक्त का दाब मापा जाता है।
ट्रांसफॉमर्रइसके द्वारा कम या अधिक वोल्टेज की AC को अधिक या कम वोल्टेज की AC में बदला जाता है।
टेलीमीटरदूर स्थानो पर  होने वाली भौतिक घटनाओ को रिकार्ड करने वाला और मापने वाला यंत्र।
टैकियोमीटरसर्वेक्षण के समय दूरी, उन्नयन, आदि मापने वाला यंत्र।
ट्रांसपोण्डरइस यंत्र का काम है, किसी संकेत को ग्रहण करना और उसके उत्तर को तुरंत प्रेषित करना।
अल्ट्रासोनोस्कोपयह यंत्र पाराध्वनि (अल्ट्रासोनिक साउंड ) को मापता है। और उसको प्रयुक्त करता है। इसका उपयोग मस्तिष्क के ट्यूमर का पता लगाने,हृदय के दोषो को ज्ञात करने ,
आदि के लिए इकोग्राम बनाने में  है।
वेन्चुरीमीटरद्रव के प्रवाह की दर ज्ञात करने क यंत्र।
विस्कोमीटरयह यंत्र किसी द्रव की श्यानता मापता है।



Post Top Ad