भारतीय दर्शन प्रणाली -3 - Gyan Darpan : Learning Portal

Post Top Ad

Saturday, 16 February 2019

भारतीय दर्शन प्रणाली -3


Indian philosophy system

1. पांचवें शताब्दी ईसा पूर्व में निम्नलिखित मे से किसकी स्थापना आजीविक संप्रदायों के बीच हुयी थी?
A. मक्खाली गोसाला
B. कपिल मुनि
C. समुद्रगुप्त
D. इनमे से कोई भी नहीं
Ans: A
2. निम्न में से कौन से आजीविक स्कूल के सिद्धांत था?
A. पूर्ण नियतिवाद का प्रशुक्त सिद्धांत
B. ऐतिहासिक भौतिकवाद
C. पूर्ण नियतिवाद का नियति सिद्धांत
D. योग के सिद्धांत
Ans: C
3. इनमें से कौन ‘भौतिकवाद के सिद्धांत' के सही प्रमुख सिद्धांतों हैं?
I. सभी चीजें पृथ्वी, वायु, अग्नि और जल के बने होते हैं।
II. यही कारण है कि अस्तित्व के लिए जो नहीं माना जा सकता है वो मौजूद होने के संकेत मिलते हैं।
III. स्वर्ग और नरक कुछ नहीं है लेकिन आविष्कार हैं। मनुष्य का ही लक्ष्य है सुख का आनंद और दर्द।
IV. पुजारियों के लिए एक अच्छा जीवन प्रदान करना धर्म में लिखित है।
कोड:
A. केवल I
B. II एवं IV दोनों
C. II एंड III दोनों
D. I, II, III, और IV
Ans: D
4. निम्न में से किस स्कूल ने वेदों के अधिकार के रूप में अच्छी तरह से ब्राह्मण वर्चस्व के पुजारियों को चुनौती दी थी?
A. भौतिकवाद की चार्वाक दर्शन
B. आजीविक स्कूल
C. पुरवा मीमांसा
D. वेदान्त
Ans: A
5. किस स्कूल को मूल सनातन धर्म कहा जाता है?
A. नास्तिक स्कूल
B. अष्टिका स्कूल
C. उपरोक्त दोनों
D. इनमे से कोई भी नहीं
Ans: B
6. निम्नलिखित में से कौन सी "जीव" की सही व्याख्या हैं?
A. जिसमें राज्य में किसी ना किसी रूप में पौरष की प्रकृति से बंधा हुआ है।
B. पौरष प्रकृति से अलग एहसास है।
C. यह अपरिवर्तनीय अनन्त और अपने स्वभाव से सचेत है।
D. उपरोक्त सभी
Ans: A
7. योग से संबंधित निम्न कथनों पर विचार करें।
I. योग ईश्वर या भगवान के 26 रूपों के साथ-साथ सांख्य स्कूल के पच्चीस सिद्धांतों को स्वीकार करता है। इसलिए यह अधिक आस्तिक है।
II. योग पौरष महसूस करने के लिए प्रकृति द्वारा व्यावहारिक कदम प्रदान करता है।
III. योग प्रणाली की स्थापना हीरंग्यगर्भ द्वारा की गयी थी और बाद में ऋषि पतंजलि द्वारा व्यवस्थित और प्रचारित किया गया।
कोड:
A. केवल I
B. केवल II
C. I एवं II दोनों
D. I, II एवं III
Ans: D
8. न्याय स्कूल से संबंधित निम्नलिखित कथनों पर ध्यान दें।
I. यह एक कार्यप्रणाली है जो तर्क की एक प्रणाली पर आधारित है और इसे बाद में अधिकांश भारतीय स्कूलों द्वारा अपनाया गया है।
II. इसका लक्ष्य किसी के मन में शांत और कैवल्य (एकांत) पाना था।
उपरोक्त में कौन सा कथन सही हैं?
A. केवल I
B. केवल II
C. I एवं II दोनों
D. ना ही I और ना ही II
Ans: A
9. निम्न में से कौन सा स्कूल ने धारणा और निष्कर्ष को वैध ज्ञान के स्रोत के रूप में स्वीकार किया था?
A. न्याय स्कूल
B. वैशेषिक
C. ए एंड बी दोनों
D. इनमे से कोई भी नहीं
Ans: B
10. निम्न में से कौन किस स्कूल को लोकयात्रा के रूप में जाना जाता है। एक शब्द जिसका अर्थ प्रकृतिवादी (संस्कृत) या सांसारिक (पाली) है?
A. आजीविक स्कूल
B. अष्टिका स्कूल
C. चार्वाक स्कूल
D. इनमे से कोई भी नहीं
Ans: C

Post Top Ad